आदरणीय पार्टनर्स!

हमारी तकनीकी टीम ने ब्लॉकचैन-प्लेसेस की सभी प्रकिया को पूरा कर लिया है — अब हमारे नेटवर्क में ट्रांजैक्शन पर पैसा कमाने के लिए सब कुछ तैयार है। ब्लॉकचैन-प्लेस को एक्टिवेट करने में — कुछ ही चरण बाकी है। इस मैनुअल में, हम आपको विस्तार से बताएंगे कि इसके लिए आपको क्या करने की आवश्यकता है, और हम सभी आवश्यक चरणों का एक-एक कर वर्णन करेंगे।

यदि आप Windows ऑपरेटिंग सिस्टम वाले कंप्यूटर का उपयोग कर रहे हैं, तो काम शुरू करने से पहले, आपको PuTTY प्रोग्राम को डाउनलोड और इंस्टॉल करना होगा — यह आपके नोड के अंतिम कॉन्फ़िगरेशन में मदद करेगा। MacOS उपयोगकर्ता अंतर्निर्मित टर्मिनल (built-in terminal) का उपयोग कर सकते हैं।

PuTTY डेवलपर की आधिकारिक वेबसाइट पर स्वतंत्र रूप से उपलब्ध है। इसे डाउनलोड करने के लिए, लिंक पर जाएँ और ऑपरेटिंग सिस्टम के बिटनेस के अनुसार एप्लिकेशन का उपयुक्त संस्करण डाउनलोड करें।

सफल इंस्टॉलेशन के बाद, PuTTY नाम का एक नया शॉर्टकट "स्टार्ट" मेनू में दिखाई देगा — हम इसके साथ आगे काम करेंगे।

PuTTY को कैसे कॉन्फ़िगर करें

प्रोग्राम के कॉन्फ़िगरेशन में कुछ भी मुश्किल नहीं है। आइए प्रोग्राम को खोलें और देखें कि इसमें क्या है। लॉन्च करने के बाद, एप्लिकेशन का कॉन्फ़िगरेशन विंडो हमारे सामने प्रदर्शित होगा, जहां बाईं ओर विभिन्न कैटेगरी हैं, और दाईं ओर — उनकी सेटिंग्स हैं।

प्रोग्राम में 4 मुख्य खंड शामिल हैं:

  • Session — एक मुख्य टैब होता है, जिसका उद्देश्य दूर स्थित कंप्यूटर से कनेक्ट होना है। यहां कनेक्शन पैरामीटर, पोर्ट, एड्रेस दर्ज किया जाता हैं, और तथाकथित प्रीसेट भी दर्ज किया जाता हैं, जिनका उपयोग किया जा सकता हैं ताकि हर बार लॉगिन डिटेल दर्ज न करना पड़े। बस Session के सेटिंग्स को एक बार सेट करें, और इसे सेव (save) करें और अगली बार प्रोग्राम शुरू करने पर इसका उपयोग करें।
  • Terminal — टर्मिनल की क्षमताओं को इनेबल या डिसेबल करने के लिए आवश्यक होता है।
  • Window — इंटरफ़ेस की सभी सेटिंग्स यहां की जाती हैं: विंडो की अपीयरेंस, रंग, फ़ॉन्ट और एन्कोडिंग।
  • Connection — यहाँ कनेक्शन पैरामीटर, एन्क्रिप्शन एल्गोरिदम, कम्प्रेशन, ऑथेंटिकेशन कीज और अन्य मान की सेटिंग्स होती है।

हमें केवल दो टैब की जरूरत पड़ेगी: Session и SSH। सबसे पहले, दूसरे पर चलते हैं और सुनिश्चित करते हैं कि प्रोटोकॉल का वर्सन "2" पर सेट रहे। जैसा कि हम जानते हैं, अब SSH-2 की अवधारणा का उपयोग किया जाता है, क्योंकि पहले संस्करण का व्यावहारिक रूप से महत्वपूर्ण कमियों के कारण उपयोग नहीं किया जाता है, उदाहरण के लिए, सुरक्षा बनाए रखने की योजना में त्रुटियां।

आइए Session अनुभाग पर वापस जाएं, जिसमें मुख्य पैरामीटर शामिल हैं जिन्हें हमें SSH के माध्यम से सर्वर से कनेक्ट करने की आवश्यकता है। आइए रुकें और उनके बारे में थोड़ी बात करें:

  1. पहले ब्लॉक में कनेक्शन के लिए आवश्यक बुनियादी पैरामीटर शामिल हैं: IP-एड्रेस और पोर्ट दर्ज करने के लिए एक विंडो, कनेक्शन के प्रकार का चुनाव करने की एक लाइन।
  2. अगला ब्लॉक प्रीसेट बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है जिसका उपयोग दूर स्थित कंप्यूटर से जल्दी से कनेक्ट करने के लिए किया जा सकता है। Session का नाम Saved Sessions लाइन में दर्ज किया जाता है, इसे सेव बटन का उपयोग करके सेव किया जाता है। सेव किए गए प्रीसेट का उपयोग करने के लिए, बस इसे Load बटन का उपयोग करके लोड करें।
  3. अंतिम ब्लॉक — बाहर निकलने पर विंडो बंद करने के लिए पैरामीटर है। उपलब्ध विकल्प: Always, Never, Only on clean exit.

जैसा कि आप देख सकते हैं, PuTTY की सेटिंग्स में कुछ भी मुश्किल नहीं है।


डेडिकेटेड सर्वर ख़रीदना

Digital Ocean पर रजिस्ट्रेशन

अब हमें एक डेडिकेटेड सर्वर खरीदने की जरूरत है। ऐसी दर्जनों वेबसाइटें हैं जहां से आप इसे खरीद सकते हैं।  हम लोकप्रिय DigitalOcean सर्विस पर एक नज़र डालेंगे।

शुरूआत करने के लिए, आपको इस साइट पर रजिस्ट्रेशन करना होगा। ऐसा करने के लिए, लिंक पर जाएँ https://www.digitalocean.com/

साइट के मेन पेज पर ऊपरी दाएं कोने में, Sign Up बटन पर क्लिक करें।



आपको एक साधारण सिक्योरिटी चेकिंग से गुजरने के लिए कहा जाएगा। चेकिंग पास करने के बाद, ऑथराइजेशन विधि का चयन करें। हम इसे उदाहरण के तौर पर email (शीर्ष पंक्ति) के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करके दिखाएंगे।

email के माध्यम से रजिस्ट्रेशन चुनने के बाद, एक विंडो खुलेगी जिसे भरना होगा।

उसके बाद, आपके ईमेल पर एक कंफर्मेशन लेटर भेजा जाएगा:


लेटर में आपको एक लिंक प्राप्त होगा जिसपर आपको अपना अकाउंट वेरिफाई करने के लिए क्लिक करना होगा। इस लिंक पर जाएँ।


लिंक पर क्लिक करने के बाद, आपको पेमेंट मेथड चुनने के लिए कहा जाएगा:


हम दूसरे नंबर का मेथड चुनते हैं — कार्ड की मदद से। इस विकल्प को चुनने के बाद, एक विंडो खुलेगी जिसमें आपको अपने कार्ड का विवरण दर्ज करना होगा:
कार्ड को लिंक करने के बाद आप एक डेडिकेटेड सर्वर खरीद सकते हैं।

डेडिकेटेड सर्वर ख़रीदना

आइए पहले स्टेज पर चलते हैं — जो कि है एक सर्वर खरीदना। DigitalOcean के बाएँ मेनू से, Marketplace चुनें। सर्विस का इंटरनल स्टोर खुल जाएगा।


पहली ही पंक्ति में, आपको एक Docker ब्लॉक दिखाई देगा जिसमें Create Droplet बटन होगा। इस बटन पर क्लिक करें। इस आइटम को चुनकर, हमें तुरंत एक सर्वर मिलता है जिस पर हमें जो सॉफ़्टवेयर चाहिए वह इंस्टॉल हो जाएगा। इसके बाद, हम DOCKER IMAGE का उपयोग करके नोड को इंस्टॉल करेंगे।

सेटिंग्स की विंडो खुल जाएगी। पहली पंक्ति में, पहले प्रकार का चयन करें — Ubuntu.

अब आइए एक प्लान चुनें — हमारे उद्देश्यों के लिए, सामान्य Basic उपयुक्त है। नीचे आपको प्राइस की कैटेगरी वाली एक सूची दिखाई देगी। सबसे पहले वाले को चुनें — $6 प्रति माह। यह शक्ति पर्याप्त होगी।


Choose a datacenter region अनुभाग में, सर्वर का देश चुनें। आप खुद से क्षेत्र चुन सकते हैं। हमारे उदाहरण में, हम एम्स्टर्डम का चयन करेंगे।

अब, Select Additional Options ब्लॉक में, IPv6 के लिए बॉक्स को चेक करें। यह आवश्यक नहीं है, लेकिन ऐसा करना व्यर्थ भी नहीं होगा।

अब आपको एक पासवर्ड सेट करना होगा। आप अपना खुद का पासवर्ड बना सकते हैं या सर्विस द्वारा सुझाए गए पासवर्ड को सेट कर सकते हैं।

अतः, हम अंतिम चरण में हैं। आइए हमारी वर्चुअल मशीन के लिए एक नाम सोचते हैं। आप कोई भी नाम बना सकते हैं।

वर्चुअल मशीन के निर्माण को पूरा करने के लिए, कृपया पेज़ के निचले भाग में Create Droplet पर क्लिक करें।


आपके प्रोजेक्ट के साथ एक विंडो खुलेगी, जहां आप सर्वरों की सूची में अपना नया बनाया गया सर्वर देखेंगे। कुछ मिनट प्रतीक्षा करें, जब तक सर्वर का निर्माण पूरा होता है।

सर्वर से कनेक्शन स्थापित करना

फिर Get Started बटन पर क्लिक करें जो आपके सर्वर के साथ लाइन में दिखाई देता है।

निर्देशों के साथ एक पेज खुलेगा:

निर्देशों के बीच में, आपको कमांड का टेक्स्ट दिखाई देगा, जिसे कॉपी आइकन (दो वर्ग) पर क्लिक करके क्लिपबोर्ड पर कॉपी करने की आवश्यकता होती है। इसे कॉपी करें।

अब अपने कंप्यूटर में PuTTY प्रोग्राम को ओपन करें। Host Name कॉलम में, कॉपी किया गया टेक्स्ट पेस्ट करें। केवल संख्याओं (Only digits) को छोड़कर, लाइन में से सभी टेक्स्ट हटा दें। इसके बाद Open बटन पर क्लिक करें।


एक चेतावनी के साथ विंडो खुलेगी, उसमें OK पर क्लिक करें।


एक टर्मिनल विंडो खुलेगी। इसमें root शब्द दर्ज करें और Enter दबाएं।


अब वह पासवर्ड डालें जो आपने DigitalOcean पर सर्वर बनाते समय सेट किया था और Enter दबाएं।

अब निम्न कमांड को अपनी टर्मिनल विंडो में पेस्ट करें:

docker run -d -p 9335:9335 -p 29333:9333 --env PLATINCOIN_BLOCKS_URI="https://cdn.platincoin.com/db/blockchain" --name plc-node docker.platincoin.com/platincoin/node:9.5   और Enter दबाएं।

नोड को सिंक्रोनाइज़ करना

Enter दबाने के बाद, आपके सर्वर पर नोड को इंस्टॉल करने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

इसे पूरा करने के बाद DigitalOcean पर अपने सर्वर पेज पर जाएं। स्क्रीन के ऊपरी बाएँ कोने में आपको ipv4 एड्रेस दिखाई देगा, और एड्रेस के दाईं ओर — "कॉपी" बटन दिखाई देगा। उस पर क्लिक करें — आगे के कॉन्फ़िगरेशन के लिए आपको एड्रेस की आवश्यकता होगी। क्लिक करने के बाद आपका IP-एड्रेस क्लिपबोर्ड में सेव हो जाएगा।अब अपने PLATINCOIN अकाउंट में जाएं। Block Places सेक्शन में जाएं। स्क्रीन के बीच में, इसके ऊपरी भाग में, आप Node Status विजेट देखेंगे। विजेट के नीचे एक Install बटन है। इस पर क्लिक करें।

Enter Your IP Address नाम की एक विंडो खुलेगी। राइट-क्लिक करें और "Paste" को चुनें — क्लिपबोर्ड पर कॉपी किया गया एड्रेस लाइन में पेस्ट हो जाएगा।

अब वर्चुअल सर्वर को सिंक्रोनाइज़ करने के लिए Sync बटन पर क्लिक करें।

सबकुछ तैयार है! सिंक्रनाइज़ेशन पूरा हो चुका है। अब आपकी प्लेसेस आपके लिए लाभ लाएंगी।